नई दिल्ली. पाकिस्तान में भारतीय उच्चायुक्त टी.सी.ए. राघवन और उनके परिवार को कराची के एक क्लब में प्रवेश देने से मना कर दिया गया है. बता दें कि क्लब ने पहले खुद भारतीय उच्चायुक्त को निमंत्रण दिया था. ये घटना 26 अक्टूबर की बताई जा रही है. 
 
रिपोर्ट्स के मुताबिक भारत में पाकिस्तानी कलाकारों और खिलाड़ियों के विरोध के बाद पाकिस्तान ने भी भारतीय उच्चायुक्त के खिलाफ ये कदम उठाया है. घटना कराची के प्रसिद्ध सिंध क्लब की है. बता दें कि टी.राघवन को बिना कोई कारण बताए क्लब में जाने से मना कर दिया गया था.
 
दरअसल ये कार्यक्रम एक स्थानीय ग्रुप पाकिस्तान-इंडिया सिटिजंस फ्रेंडशिप फोरम की तरफ से आयोजित किया गया था. कार्यक्रम में शामिल होने के लिए राघवन कराची पहुंचकर एक होटल में ठहरे थे कि तभी उन्हें आधिकारिक रूप से यह सूचना दी गई कि क्लब ने फैसला किया है कि वह उन्हें प्रवेश नहीं दिया जाएगा.
 
वहीं दूसरी तरफ भारतीय विदेश मंत्रालय ने इस मामले को बेहद गंभीरता से लिया है. विदेश मंत्रालय इस बात की जानकारी लेने में जुटा है कि क्या क्लब ने किसी दबाव में आकर उच्चायुक्त के आमंत्रण को रद्द किया था.