वाशिंगटन. अमेरिका ने साफ़-साफ़ शब्दों में कहा है कि अमेरिकन मीडिया में पाकिस्तान के साथ न्यूक्लियर डील की जो भी ख़बरें आ रही हैं वे पूरी तरह से गलत हैं. बता दें कि पिछले कुछ दिनों से अमेरिकन मीडिया में ऐसी ख़बरें आ रही हैं कि जिस तरह अमेरिका ने भारत के साथ 10 साल पहले परमाणु संधि की थी. ऐसी ही परमाणु संधि अमेरिका पाकिस्तान के साथ भी करने वाला है. व्हाइट हाउस ने इस तरह की सभी ख़बरों को नकारा है.

इससे पहले भी जब व्हाइट हाउस के प्रवक्ता जोश अर्नेस्ट से संवाददाताओं ने पूछा था कि क्या पाकिस्तान के साथ कोई परमाणु समझौता होगा? इसके जवाब में अर्नेस्ट ने कहा था कि दोनों देशों के बीच किसी परमाणु करार की संभावना नहीं है. बीते हफ्ते भी अर्नेस्ट ने पाकिस्तान के परमाणु हथियारों की संख्या सीमित करने के मामले में किसी करार की संभावना को इसी तरह खारिज किया था. 

गुरूवार को हुई बैठक में अमेरिका के राष्ट्रपति और पाकिस्तान के प्रधानमंत्री नवाज़ शरीफ़ के बीच कई महत्वपूर्ण मुद्दों पर चर्चा हुई.  इसमें ओबामा द्वारा बीते हफ्ते अफगानिस्तान के बारे में बताई गई हमारी रणनीति पर बात भी शामिल थी. अमेरिका का कहना है कि शरीफ की यात्रा पाकिस्तान-अमेरिका के संबंधों के स्थाई रूप को दर्शाती है और इससे दोनों देशों को समान मुद्दों पर सहयोग बढ़ाने में मदद मिलेगी.