इस्लामाबाद. पाकिस्तान के पूर्व विदेश मंत्री खुर्शीद महमूद कसूरी ने कहा है कि ‘हिंदुत्व के जिन्न’ को केवल भारतीय प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ही उस बोतल में वापस डाल सकते हैं, जिसमें से उन्होंने इसे निकाला था. शिवसेना कार्यकर्ताओं ने पिछले सप्ताह मुंबई में कसूरी की किताब के विमोचन के अवसर पर हंगामा किया था. हंगामे के दौरान कार्यकर्ताओँ नें बीजेपी नेता सुधींद्र कुलकर्णी का मुंह काला कर दिया था. 
 
जियो टीवी की रिपोर्ट के मुताबिक कसूरी ने कहा कि हिंदुत्व एक दक्षिणपंथी विचारधारा है, जिसमें यह माना जाता है कि संपूर्ण भारतीय उपमहाद्वीप, जिसमें भारत के अतिरिक्त अन्य देश भी शामिल हैं केवल हिंदुओं की मातृभूमि है.
 
भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (बीसीसीआई) के अध्यक्ष शशांक मनोहर की पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड के साथ तय मुलाकात से थोड़ी देर पहले बीसीसीआई ऑफिस में शिवसेना कार्यकर्ताओं के हंगामे की खबर के बाद कसूरी का यह बयान आया है.
 
शिवसेना ने पाकिस्तानी क्रिकेट अम्पायर अलीम डार को भारत में हो रहे भारत-दक्षिण अफ्रीका वनडे सीरीज की अम्पायरिंग करने के खिलाफ भी धमकी दी थी. इसके बाद अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट परिषद (आईसीसी) ने डार को इस श्रृंखला से दूर कर लिया.
 
इससे पूर्व इसी महीने की शुरुआत में शिवसेना की धमकी के बाद आयोजकों ने मुंबई में पाकिस्तानी गायक गुलाम अली का संगीत कार्यक्रम रद्द कर दिया था.
 
IANS