गाज़ा. संयुक्त राष्ट्र की एक रिपोर्ट के अनुसार 2014 में गाजा पर इजराइली हमला 50 साल पहले हुए 1967 में हुए युद्ध से भी भयावह रहा. इस नई रिपोर्ट मे कहा गया है कि 50 दिनों तक चले इस हमले में तकरीबन 22,00 फिलस्तीनी नागरिक मारे गए और 11 हजार से अधिक घायल हुए. रुह को कंपा देने वाल सच ये है कि मारे गए लोगों में तकरीबन 550 बच्चे थे, मतलब हर दिन करीब 11 बच्चों की हत्या हुई.

मारे गए कुल लोगों में तकरीबन 1500 सौ लोग आम नागरिक थे. यही रिपोर्ट यह भी बताती है कि जो 71 इजराइली मारे गए थे, उनमें से 66 इजराइली सेना के थे. युद्ध का ये आतंक केवल 50 दिनों तक ही सीमित नहीं रहा. पिछले साल 2,314 फिलस्तीनी इस युद्ध की भेंट चढ़ गए जबकि घायल होने वाले लोगों की संख्या 17 हजार से अधिक है. 5 लाख की आबादी वाले गाजा में 28 फीसदी लोग युद्द की वजह से आंतरिक रुप से विस्थापित हुए.