मक्का. हज की मुकद्दस यात्रा सोमवार से शुरु हो गई है. करीब डेढ़ लाख से ज्यादा भारतीय मुसलमानों ने भी सऊदी के पवित्र शहर मक्का से नजदीक के शहर मीना में जाने के लिए मंगलवार सुबह से सफर शुरु कर दिया है. ‘लब्बेक अल्लाहुम्मा लब्बेक’ (मैं तुम्हारे पास आया हूं, ऐ मेरे अल्लाह, मैं तुम्हारे पास आया हूं) कहते हुए हज यात्री आगे बढ़ रहे हैं.
 
 
मीना में अल्लाह के मेहमानों के लिए खास इंतजाम किए गए हैं. आग से रक्षा के लिए खास पानी के  पाइप बिछाए गए है. मीना से हज यात्री मुजदाफिला जाएंगे और वहां से मीना घाटी में रस्म में अदा करने के लिए कंकड़ इकट्ठे करेंगे.इससे अगले दिन हज यात्री तीन स्तंभों पर शैतान को सांकेतिक तौर पर कंकड़ मारेंगे. कंकड़ मारने के बाद, पैगम्बर इब्राहिम की अपने इकलौते बेटे हजरत इस्माइल की अल्लाह के लिए कुर्बान करने वाली रस्म को याद करते हुए पशु की कुर्बानी देकर अदा करेंगे. ईद उल-अजहा के साथ ही हज यात्रा पूरी हो जाएगी.