हवाना. क्यूबा के पूर्व राष्ट्रपति फिदेल कास्त्रो एक साल से ज्यादा समय बाद पहली बार सार्वजनिक तौर पर दिखाई दिए हैं. उन्होंने पिछले सोमवार को हवाना के एक स्कूल का दौरा किया था, जहां उन्होंने वेनेजुएला प्रतिनिधिमंडल के सदस्यों के साथ मुलाकात की. इस स्कूल का निर्माण कास्त्रो ने ही कराया था और उन्होंने ही 2013 में इसका उद्घाटन किया था.

आधिकारिक मीडिया ने शनिवार को बताया कि कास्त्रो द्वारा विल्मा एस्पिन स्कूल का दौरा करने की खबरें सोशल नेटवर्क द्वारा फैलाई गईं और पिछले कुछ दिनों से क्यूबा से बाहर के कुछ मीडिया ने इसे जारी की थीं लेकिन कास्त्रो द्वारा इस आयोजन में हिस्सा लेने की तस्वीरें सार्वजनिक होने तक क्यूबा की आधिकारिक स्थानीय मीडिया ने शनिवार तक इसकी पुष्टि नहीं की थी. इसके बाद इस आयोजन की तस्वीरें सार्वजनिक की गईं.

इन तस्वीरों में कास्त्रो एक वाहन में बैठे हैं. उन्हें उनके परंपरागत ट्रैक सूट और टोपी में देखा जा सकता है. वह वाहन की खिड़की से हवाना आए एक प्रतिनिधिमंडल में वेनेजुएला के सदस्यों की तरफ हाथ हिला रहे हैं. कास्त्रो ने एक-एक कर प्रतिनिधिमंडल के सभी सदस्यों का अभिवादन किया.

एक दैनिक समाचार पत्र के मुताबिक, कास्त्रो ने वेनेजुएला की राष्ट्रीय असेंबली, देश के युवाओं के लिए किए गए कार्यो और कृषि संबंधी विषयों पर उनसे बातें की. उन्होंने दक्षिण अमेरिकी देशों की संप्रभुता के सम्मान की मौजूदा लड़ाई पर भी विशेष चिंता प्रकट की. कास्त्रो ने बीमारी की वजह से 2006 में राष्ट्रपति पद छोड़ दिया था. वह आखिरी बार जनवरी 2014 में सार्वजनिक रूप से दिखाई दिए थे.