वाशिंगटन. अमेरिका ने भारत के साथ रक्षा रिश्तों को मजबूत करने के लिए बड़ा कदम उठाया है. यहां पेंटागन ने भारत के लिए एक विशेष प्रकोष्ठ बनाया है. इसी के साथ भारत ऐसा पहला देश बन गया है जिसके लिए पेंटागन के अंदर इस तरह का विशेष प्रकोष्ठ है. ओबामा सरकार में रक्षा मंत्री एश्टन कार्टर के फरवरी में पेंटागन का कार्यभार संभालने के फौरन बाद इसकी स्थापना की गई.
 
इंडिया रैपिड रिएक्शन सेल (आईआरआरसी) के प्रमुख के कीथ वेबस्टर हैं जो इंटरनेशल कारपोरेशन ऑफिस ऑफ द अंडर सेकेट्ररी ऑफ डिफेंस फॉर एक्यूजिशन, टेक्नोलॉजी एंड लॉजिस्टिक के निदेशक हैं. वेबस्टर ने कहा कि भारत त्वारित प्रतिक्रिया प्रकोष्ठ का मकसद डीटीटीआई (रक्षा व्यापार और तकनीक पहल) के तहत हमारी (भारत अमेरिका की) जारी सभी पहलों पर काम करना है.यह प्रकोष्ठ 25 अन्य प्रस्तावों को देख रहा है जो अमेरिकी रक्षा उद्योग की तरफ से सह विकास और सह उत्पादन के लिए आए थे.
 
एजेंसी से इनपुट