नई दिल्ली. सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार पाकिस्तानी खुफिया एजेंसी आईएसआई ने रविवार को एक बार फिर अंडरवर्ल्ड डॉन दाऊद इब्राहिम का ठिकाना बदल दिया है. माना जा रहा है कि भारत की ओर से दाऊद के ठिकानों और संपत्ति की जानकारी को आम किए जाने के बाद आईएसआई ने यह कदम उठाया है. 
 
गौरतलब है कि शनिवार को भारतीय खुफिया एजेंसियों द्वारा कराची में दाऊद के ठिकाने की जानकारी का खुलासा किया था. आईएसआई द्वारा दाऊद का ठिकाना बदले जाने की घटना को इसी से जोड़कर देखा जा रहा है. एक निजी समाचार चैनल की खबर के अनुसार रविवार दोपहर 2.30 से 3 बजे के बीच दाऊद को कराची के स्थित उसके ठिकाने से उत्तरी पाकिस्तान के मुरी इलाके में शिफ्ट कर दिया गया. मुरी पाकिस्तानी फौज और आईएसआई का खुफिया ठिकाना बताया जाता है.
 
वहीं दूसरी ओर पूर्व गृह सचिव और बीजेपी के सांसद आरके सिंह दाऊद को पाकिस्तान में ठिकाने लगाने की बात कर रहे हैं. आरके सिंह का कहना है कि पाकिस्तान को सबूत देने का कोई फायदा नहीं है. उन्होंने कहा कि खुफिया तरीके से पाकिस्तान में घुसकर दाऊद को ठिकाने लगाना आखिरी रास्ता है. हमें भी दाऊद को उसी तरह ठिकाने लगाना होगा जैसे अमेरिका ने ओसामा बिन लादेन को ठिकाने लगाया था.  इससे पहले शनिवार को भारतीय मीडिया में पाकिस्तान में दाऊद के नौ ठिकाने होने खबर सामने आई थी. यह बात भी पता चली थी कि डॉन लगातार अपने पते-ठिकाने बदलता रहता है. 
 
डॉजियर के मुताबिक, ‘दाउद अक्सर पाकिस्तान में अपने पते-ठिकाने बदलने के लिए जाना जाता है. उसने पाकिस्तान में बहुत संपत्ति अर्जित कर ली है और पाकिस्तानी एजेंसियों के सुरक्षा घेरे में रहता है.’ डॉजियर के मुताबिक, दाउद के पास तीन पाकिस्तानी पासपोर्ट हैं जिसमें पहला रावलपिंडी में जारी किया गया. इसका नंबर जी-866537 है. दूसरा पासपोर्ट कराची में जारी किया गया. इसका नंबर सी-267185 है जबकि तीसरा पासपोर्ट भी कराची में ही जारी किया गया तीसरे पासपोर्ट का नंबर केसी-285901 है.