इस्लामाबाद. भारत द्वारा राष्ट्रमंडल संसदीय सम्मेलन (सीपीसी) के बहिष्कार को लेकर पाकिस्तान के एक अधिकारी ने कहा है कि भारत अगर जम्मू एवं कश्मीर के विधानसभा अध्यक्ष को आमंत्रित न करने की वजह से राष्ट्रमंडल संसदीय सम्मेलन (सीपीसी) का बहिष्कार कर रहा है, तो यह उसकी समस्या है.

डॉन में मंगलवार को प्रकाशित रिपोर्ट के अनुसार, पाकिस्तान की नेशनल असेंबली के अध्यक्ष सरदार अयाज सादिक ने कहा है कि चाहे जो हो, पाकिस्तान अपने रुख पर कायम रहेगा. अयाज सीपीसी के भी अध्यक्ष हैं.

अयाज ने कहा कि जम्मू एवं कश्मीर पर पाकिस्तान का रुख एकदम स्पष्ट है. अयाज ने सोमवार को कहा, ‘पाकिस्तान अगले माह होने वाले सीपीसी में जम्मू एवं कश्मीर के विधानसभा अध्यक्ष को आमंत्रित नहीं करेगा. भारत के नियंत्रण वाले कश्मीर की विधानसभा वैध नहीं है, इसलिए हम इसे स्वीकार नहीं करेंगे.’उन्होंने कहा, ‘अगर भारत कश्मीर मुद्दे की वजह से सम्मेलन में शामिल नहीं हो रहा है, तो यह उनकी पसंद है. हम अपने रुख से नहीं हटेंगे.’

भारत ने पाकिस्तान द्वारा जम्मू एवं कश्मीर के विधानसभा अध्यक्ष को आमंत्रित करने से इंकार करने के विरोध में राष्ट्रमंडल सम्मेलन में शामिल होने से मना कर दिया है.

IANS