इस्लामाबाद: पाकिस्तान ने मुंबई हमले का मास्टर माइंड और आतंकी सगंठन जमात-उद-दावा प्रमुख हाफिज सईद की नजरबंदी एक महीने के लिए और बढ़ा दी है. पंजाब गृह विभाग ने मंगलवार को एक आदेश जारी कर सईद और उसके चार सहयोगी मलिक जफर इकबाल, अब्दुल्ला उबेद, काजी काशिफ हुसैन और अब्दुल रहमान आबिद की नजरबंदी 25 सितम्बर के प्रभाव से 30 दिन के लिए बढ़ा दी.
 
अधिकारियों ने बताया कि उसकी गतिविधियां देश के लिए काफी खतरा हैं. सईद की नजरबंदी का पिछला आदेश 28 जुलाई को जारी किया गया था. बता दें कि पंजाब सरकार ने 31 जनवरी को आतंकवाद निरोधक अधिनियम 1997 के तहत सईद और उसके चार सहयोगियों को 90 दिन के लिए नजरबंद किया था.
 
 
पाकिस्तान पर भारत और अमेरिका के बढ़ते दवाब के कारण 30 जनवरी को पाकिस्तान सरकार ने लाहौर हाई कोर्ट में माना था कि हाफिज सईद और उनके चार अन्य सहयोगी आतंकी है. हाफिज सईद आतंकी गतिविधियों से जुड़ा है. जिसके बाद से इन सभी को नजरबंद कर दिया गया था.
 
हाफिज सईद मुंबई हमले का मास्टरमाइंड है और उसे 2008 में मुंबई आतंकी हमले के बाद भी हाउस अरेस्ट में रखा गया था. मुंबई हमलों में 166 भारतीय और विदेशियों की मौत हुई थी. 2009 में एक कोर्ट के आदेश के बाद वह छूटा था. खास बात ये है कि आतंकवादी गतिविधियों में शामिल होने के कारण उस पर एक करोड़ डॉलर का इनाम भी रखा है.
 
 
बता दें कि 26 सितंबर को भारत आए अमेरिकी रक्षा मंत्री ने भी जेम्स मैटिस ने कहा कि आतंक को पनाह देने वालों को किसी भी हाल में बख्‍शा नहीं जाएगा. भारत और यूएस साथ मिलकर आतंकवाद के खात्मे पर काम कर रहे हैं. मैटिस ने कहा कि दोनों देश समझते हैं कि दुनियाभर में आतंकवाद तेजी से फैल रहा है. जेम्स ने भारत द्वारा अफगानिस्तान को दी जा रही मदद की तारीफ भी की.