टोक्यो. जापान ने उत्तर कोरिया पर लगाया एकतरफा प्रतिबंध मंगलवार को दो साल के लिए बढ़ा दिया है. समाचार एजेंसी सिन्हुआ की रिपोर्ट के अनुसार, इस फैसले ने यह दिखाया है कि जापान को वर्ष 1970-80 के मध्य में जापानी नागरिकों के अपहरण मामले में उत्तर कोरिया की जांच में कोई खास प्रगति नहीं दिखी है.

प्रतिबंध की अवधि 13 अप्रैल को समाप्त हो रही थी, जिसके तहत उत्तर कोरिया के जहाज जापानी बंदरगाह में प्रवेश नहीं कर सकते और न ही दोनों देशों के बीच चार्टर्ड विमान ही उड़ान भर सकते हैं. हालांकि, मानवीय उद्देश्यों के लिए भेजे जा रहे जहाज पर प्रतिबंध नहीं लगाया गया था. जापान ने पिछले साल जुलाई में आंशिक रूप से प्रतिबंध हटा दिया था, क्योंकि उत्तर कोरिया ने जापान के अगवा नागरिकों के स्थान का पता लगाने के लिए नए सिरे से जांच शुरू की थी, लेकिन यह इस पर कोई निर्णायक रिपोर्ट पेश नहीं कर पाया.\

IANS