टोक्यो. जापान की जानी मानी कंपनियों में से एक तोशिबा में 1.2 अरब डॉलर से अधिक के लेखा घोटाले को लेकर कंपनी के अध्यक्ष एवं सात अन्य उच्च स्तरीय अधिकारियों ने बुधवार को इस्तीफा दे दिया. एक स्वतंत्र जांच में यह पाए जाने पर कि सालों से चली योजना में मुनाफा दिखाने के लिए वरिष्ठ प्रबंधन की भी मिलीभगत थी, हिसाओ तनाका एवं वाइस चेयरमैन नोरियो सासाकी ने इस्तीफा दे दिया.

कंपनी द्वारा नियुक्त एक समिति ने कहा कि पिछले कई सालों से प्रबंधक मुनाफे को बढ़ाकर दिखाने के लिए ‘करीने से’ लगे थे. कंपनी ने एक बयान में कहा, ‘‘यह उजागर हुआ है कि लंबे समय से अनुचित लेखांकन चल रहा था और शेयरधारकों व अन्य भागीदारों के समक्ष खड़े हुए इस गंभीर संकट के लिए गहरा खेद व्यक्त करते हैं.’’

इसकी वजह से हमारी कंपनी के अध्यक्ष हिसाओ तनाका और हमारी कंपनी के वाइस चेयरमैन नोरियो ससाकी आज इस्तीफा देंगे. 64 वर्षीय तनाका और 66 वर्षीय ससाकी दोनों ही तोशिबा में सत्तर के दशक में शामिल हुए थे.