काबुल: अफगानिस्तान में फिर एक बार आतंकी हमला हुआ है. न्यूज एजेंसी रॉयटर्स के मुताबिक मजार-ए-शरीफ इलाके में मौजूद आर्मी हैडक्वाटर में तालिबानी आतंकियों ने हमला किया है जिसमें कम से कम 50 लोगों की मौत हो गई है.
 
रॉयटर्स ने अमेरिकी सेना के प्रवक्ता के हवाले से कहा है कि करीब 50 लोग इस हमले में मारे गए हैं. जबकि एक और रिपोर्ट में कहा गया है कि मरने वाले लोग 60 से भी ज्यादा हैं. हालांकि अभी तक इस बारे में कोई आधिकारिक पुष्टि नहीं हो पाई है.
 
गौरतलब है कि मजार-ए-शरीफ उन चार इलाकों में से एक है जहां भारतीय दूतावास भी मौजूद है. अफगानिस्तान के समय के मुताबिक दोपहर करीब डेढ़ बजे उत्तरी बल्ख इलाके में 209वी शाहीन बटालियन के पास धमाके और गोलीबारी की तेज आवाजें सुनाई दी. 
 
रिपोर्ट के मुताबिक सुरक्षाबलों की दो गाड़ियों में सुरक्षाबलों के कपड़े पहने आतंकियों ने कैंप में प्रवेश किया. इस दौरान उन्होंने तीन सुरक्षा घेरे को पार करते हुए डाइनिंग हॉल में बैठे अधिकारी और मस्जिद में नमाज पढ़ रहे जवानों को निशाना बनाया. 
 
आतंकी काफी समय तक मस्जिद में मौजूद रहे. इस दौरान सेना के हैलिकॉप्टर भी मस्जिद के ऊपर नजर आए और इलाके को पूरी तरह सील कर दिया गया. 
 
तालिबान के प्रवक्ता जबिउल्ला मुजाहिद ने हमले की जिम्मेदारी लेते हुए कहा कि लड़कों ने धमाके से पूरा इलाका जला दिया. उन्हें खुद को बम से उड़ा लेने का भी निर्देश था. उसने कहा कि अफगान सेना की वजह से उनके लोगों को भारी नुकसान हुआ है.