वॉशिंगटन: अमेरिका की केन्द्रीय खुफिया एजेंसी यानी CIA के एक पूर्व अधिकारी का कहना है कि पाकिस्तान संभवत: दुनिया के लिए सबसे खतरनाक देश है. अधिकारी ने पाकिस्तान की गिरती अर्थव्यवस्था, फैले आतंकवाद और तेजी से बढ़ रहे परमाणु शस्त्रों से लैस वाले देशों में शामिल होने के कारण पैदा हुए संभावित खतरों का हवाला देते हुए ऐसा कहा है.
 
 
इस्लामाबाद में सीआईए के पूर्व स्टेशन प्रमुख केविन हल्बर्ट के मुताबिक पाकिस्तान के विफल होने से विश्व के लिए परेशानी खड़ी हो सकती है. उन्होंने कहा कि पाकिस्तान एक नाकाम बैंक की तरह है. बैंक के बर्बाद होने पर बड़ी अर्थव्यवस्था पर खासा प्रभाव पड़ता है.
 
चिंता का विषय
उनका कहना है कि 3.3 करोड़ जनसंख्या होने के कारण अफगानिस्तान से बहुत समस्या है लेकिन पाकिस्तान की जनसंख्या अफगानिस्तान के बजाय 5 गुना ज्यादा है. पाक की जनसंख्या 18.2 करोड़ है. विश्व की छठी सबसे ज्यादा जनसंख्या और सबसे ज्यादा जन्मदर वाले देशों में एक पाकिस्तान बड़ी चिंता का विषय है.
 
 
आर्थिक मदद
हलबर्ट के मुताबिक पाकिस्तान दुनिया का सबसे खतरनाक देश नहीं है लेकिन संभवतः यह दुनिया का सबसे खतरनाक देश है. अमेरिका और आईएमएफ ने पाकिस्तान को कई अरब डॉलर की आर्थिक मदद भी की है. जिसे बंद भी नहीं किया जा सकता है.
 
बता दें कि हलबर्ट ने खुफिया कम्युनिटी के लिए समर्पित एक वेबसाइट पर ये बातें लिखी हैं.