मॉस्को. रूसी राष्ट्रपति व्लादिमिर पुतिन ने पूर्वी यूरोप में अमेरिका की बढ़ती सैन्य तैनाती के मद्देनजर इस साल दूसरे महाद्वीप तक परमाणु बम को ले जाने में सक्षम 40 से ज्यादा मिसाइलों को परमाणु सैन्य भंडार में शामिल करने की घोषणा की है.

मॉस्को के पास अंतरराष्ट्रीय सैन्य प्रदर्शनी में पुतिन ने कहा कि इस साल रूस के परमाणु हथियार भंडार में 40 से ज्यादा ऐसे इंटर कंटीनेंटनल बैलिस्टिक मिसाइल (ICBM) जोड़े जाएंगे जो बहुत ही आधुनिक मिसाइल डिफेंस सिस्टम को चकमा देकर परमाणु बम को लक्ष्य तक पहुंचाने में सक्षम हैं.

पुतिन के इस बयान का निशाना अमेरिका है जिसने पूर्वी यूरोपी में मिसाइल डिफेंस सिस्टम्स लगाए हैं. रूस के साथ अमेरिका और नैटो देशों की लंबी तनातनी चल रही है और पुतिन की यह घोषणा इस तनाव को और बढाएगी.

रूस के जूनियर रक्षा मंत्री एनातोली एंटोनोव ने इसी समारोह में कहा कि इस तरह की रिपोर्ट आ रही हैं कि अमेरिका नैटो देशों में मिसाइलें तैनात कर रहा है और हथियार के भंडार बना रहा है. एंटोनोव ने कहा कि ऐसा लगता है कि नैटो देश रूस को हथियारों की होड़ में घसीट रहे हैं.