बीजिंग. सबसे खतरनाक फाइटिंग स्किल कुंगफू को माना जाता है. चीन के लोग आत्मरतक्षा के लिए सबसे ज्यादा इस विधा को अपनाते हैं. चीन के बच्चे भी इस विधा में पारंगत हैं. 11वें अंतरराष्ट्रीय शाओलिन वुशु फेस्टिवल में करीब 30 हजार कुंगफू के स्टूडेंट्स ने ऐसे-ऐसे करतब दिखाए जिसे देखकर आप जरूर ये कहेंगे की क्या बात है.
 
 
चीन के हेनान प्रांत में शाओलिन मंदिर में 16 अक्टूबर से 20 अक्टूबर तक इस फेस्टिवल का आयोजन किया जा रहा है.
 
 
इसी दौरान 30 हजार कुंगफू के स्टूडेंट्स ने ऐसे करतब दिखाए जिसे साधारण लोग सोच भी नहीं सकते.
 
 
इन स्टूडेंट्स के करतब करती हुई एरियल व्यू की तस्वीरें हर किसी को आश्चर्य में डाल देंगी.
 
 
क्या है शाओलिन वुशु फेस्टिवल ?
शाओलिन वुशु फेस्टिवल चीन की संस्कृति और मार्शल आर्ट्स को बढ़ावा देने के लिए आयोजित किया जाता है.
 
 
साल 1991 से यह फेस्टिवल आयोजित किया जा रहा है. अब तक 10 बार इसका आयोजन किया जा चुका है.
 
 
इस फेस्टिवल में कई तरह के मार्शल आर्ट्स का प्रदर्शन किया जाता है.
 
 
 
शाओलिन वुशु का दुसरा नाम शाओलिन कुंगफू भी है, यह करीब 1,500 साल पुरानी विधा है.