बग़दाद. इराक में ISIS के खिलाफ गठबंधन सेनाओ ने बड़ी कारवाई की हैं. इराकी सेना ISIS के गढ़ मोसुल से कुछ ही दूरी पर है. ये लड़ाई इस्लामिक स्टेट के खिलाफ आखिरी लड़ाई साबित हो सकती है.
 
दुनिया के सबसे खतरनाक आतंकी संगठन इस्लामिक स्टेट की उलटी गिनती शुरू हो गयी है. इराकी सेना मोसुल शहर के बहुत पास पहुंच गयी है. मीडिया रिपोर्ट्स  के अनुसार इस संगठन का प्रमुख अबु-बकर-अल-बगदादी भी इस समय अपने लड़ाकों  के साथ मोसुल में ही मौजूद हैं. 
 
मोसुल वही इलाका है जहां 2014 में आईएसआईएस ने इराकी सेना को हराकर कब्जा किया था. जिसके बाद आईएसआईएस के आका अबु-बकर-अल-बगदादी ने यहीं से खलीफा कानून का आगाज  किया था.
 
इराकी सेना अब तक 9 गांवों को इस्लामिक स्टेट के कब्जे से आज़ाद करा चुकी है. इराकी सेना को रोकने के लिए इस्लामिक स्टेट ने शहर की ओर आने वाले रास्तों पर बारूदी सुरंगे बिछा दी है. आईएसआईएस के लड़ाकों ने तेल के कुओं में आग लगा दी है ताकि धुंए के कारण इराकी फौजे हवाई हमला न कर सकें.