Hindi world masoodazher, jaish-e-mahommad, ISI, pakisatanigoverment, SurgicalStrike http://www.inkhabar.com/sites/inkhabar.com/files/field/image/masood%20azher.jpg

'भारत के खिलाफ जिहाद की राह खोले पाकिस्तानी सरकार': मसूद अज़हर

'भारत के खिलाफ जिहाद की राह खोले पाकिस्तानी सरकार': मसूद अज़हर

    |
  • Updated
  • :
  • Thursday, October 13, 2016 - 12:09
masoodazher, jaish-e-mahommad, ISI, pakisatanigoverment, Surgicalstrike

Pakistani government should open his ways for jihadis against India: Masood Azher Jaish Chief

इनख़बर से जुड़ें | एंड्रॉएड ऐप्प | फेसबुक | ट्विटर
'भारत के खिलाफ जिहाद की राह खोले पाकिस्तानी सरकार': मसूद अज़हर Pakistani government should open his ways for jihadis against India: Masood Azher Jaish ChiefThursday, October 13, 2016 - 12:09+05:30
इस्लामाबाद. आतंकी संगठन जैश-ए-मोहम्मद के सरगना मसूद अज़हर ने पाकिस्तानी सरकार से भारत के खिलाफ जिहाद छेड़ने की अपील की. उसने जैश-ए-मोहम्मद की साप्ताहिक पत्रिका अल-क़लाम में प्रकाशित एक लेख में ऐसा कहा हैं.
 
अपने लेख में उसने आगे लिखा है,'अगर पाकिस्तान सरकार थोड़ी हिम्मत दिखाए तो कश्मीर की मुश्किल और पानी की समस्या एक बार में हमेशा के लिए हल हो जाएंगी. कुछ और नहीं तो (पाकिस्तानी) सरकार को मुजाहिद्दीनों के लिए रास्ता साफ कर देना चाहिए. फिर अल्लाह की मर्जी रही तो 1971 की सभी कड़वी यादें 2016 की फतह की खुशी में गायब हो जाएंगी.'
 
पाकिस्तान की सरकार को संबोधित करते हुए मसूद अज़हर ने लिखा है कि 1990 से जारी जिहादी नीति से पाकिस्तान को रणनीतिक फायदा हुआ है. अज़हर ने आगे लिखा है कि भारत अखण्ड भारत बनाने का सपना देखता है.
 
लेकिन जिहादियों की मौजूदगी के कारण उसके मंसूबे कभी पूरे नहीं हो पाएंगे, क्योंकि जिहादियों ने उसके हर अंग को घायल कर दिया है. अज़हर ने लिखा है,'भारत की सैन्य क्षमता की पोल पठानकोट और उरी में खुल चुकी है.'
First Published | Thursday, October 13, 2016 - 09:37
For Hindi News Stay Connected with InKhabar | Hindi News Android App | Facebook | Twitter
(Latest News in Hindi from inKhabar)
Disclaimer: India News Channel Ka India Tv Se Koi Sambandh Nahi Hai

Add new comment

CAPTCHA
This question is for testing whether or not you are a human visitor and to prevent automated spam submissions.