इस्लामाबाद. भारत की आपत्ति के बावजूद पाकिस्तान के कब्जे वाले कश्मीर स्थित गिलगित-बालतिस्तान विधानसभा चुनाव के लिए सोमवार को मतदान शुरू हो गया है. इन चुनावों में विधानसभा के 24 सदस्यों के निर्वाचन के लिए कड़े सुरक्षा इंतजाम किए गए हैं.

इलाके के सभी ज़िलों में पाकिस्तानी सेना को तैनात किया गया है. मीडिया रिपोर्टों के अनुसार, पाकिस्तान मुस्लिम लीग नवाज (पीएमएल-एन) और पाकिस्तान तहरीक-ए-इंसाफ (पीटीआई) ने सभी निर्वाचन क्षेत्रों में अपने उम्मीदवारों को मैदान में उतारा है, जबकि पाकिस्तान पीपुल्स पार्टी (पीपीपी) 22 सीटों पर चुनाव लड़ रही है.

चुनावों में हिस्सा लेने वाली अन्य पार्टियों में मजिलस वाहदत-ए-मुस्लिमीन (एमडब्ल्यूएम), ऑल पाकिस्तान मुस्लिम लीग (एपीएमएल), जमीयत उलेमा-ए-इस्लाम फज्ल (जेयूआई-एफ), पाकिस्तान अवामी तहरीक (पीएटी) और जमात-ए-इस्लामी (जेआई) शामिल हैं.

कश्मीर में चुनाव कराने पर भड़का भारत

भारत ने पाकिस्तान अधिकृत कश्मीर के गिलगित और बालतिस्तान में चुनाव पर कड़ा एतराज जताया है. भारत ने कहा कि देश के इन अभिन्न अंग में पाकिस्तान ऐसा करके वहां अपने जबरन और अवैध कब्जे पर पर्दा डालने का प्रयास कर रहा है. विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता विकास स्वरूप ने कहा,  ‘भारत का रुख स्पष्ट है. गिलगित और बालतिस्तान क्षेत्र सहित समूचा जम्मू-कश्मीर राज्य भारत का अभिन्न अंग है. इन क्षेत्रों को कब्जाने की पाकिस्तान की कोशिशों से हम चिंतित हैं.’

IANS