वॉश‍िंगटन. उरी हमले के बाद अमेरिकी संसद में पेश हुए पाकिस्तान को आतंकवाद का प्रायोजक देश घोषित करने की याचिका ने रिकॉर्ड बना लिया है.  6 लाख से ज्यादा लोगों के दस्तखत के बाद यह अमेरिका की सबसे लोकप्रिय और चर्चित याचिका बन गई है.
 
इनख़बर से जुड़ें | एंड्रॉएड ऐप्प | फेसबुक | ट्विटर
 
दरअसल, अमेरिकी संसद में पेश ‘हम लोग प्रशासन से पाकिस्तान को आतंकवाद का प्रायोजक देश (एचआर 6069) घोषित करने की अपील करते हैं’ याचिका पर   6,13,830 लोगों ने हस्ताक्षर किए हैं.  इतने लोगों के हस्ताक्षर के बाद  व्हाइट हाउस ने इसे ‘आर्काइव’ में  दर्ज कर लिया है.
 
रिपोर्ट्स के अनुसार कल दोपहर तक याचिका पर हस्ताक्षरों की संख्या 51,939 थी. जबकि नए हस्ताक्षरों के साथ यह संख्या 6,65,769 तक पहुंच गई है.  बता दें कि इससे पहले किसी भी व्हाइट हाउस याचिका ने अभी तक 3,50,000 का आंकड़ा पार नहीं किया है.
 
हालांकि हाइट हाउस याचिका को बंद करने से पहले जो हस्‍ताक्षर हुए उन्‍हें वैरिफाई भी करेगी.  जिसके कारण इस पर फर्जी हस्‍ताक्षर होने की आशंका नहीं रहेगी. वहीं जानकारों की मानें तो व्हाइट हाउस की ओर से इस याचिका पर निर्धारित 60 दिनों के समय में  ही आधिकारिक प्रतिक्रिया मिलने की उम्मीद है.