नई दिल्ली. पुर्तगाल के पूर्व प्रधानमंत्री एंटोनियो गुटेरेस संयुक्‍त राष्‍ट्र के नए सेक्रेट्री-जनरल बन सकते हैं. डिप्लोमैट्स के मुताबिक बुधवार को छठे गुप्‍त मतदान के दौरान संयुक्‍त राष्‍ट्र के वीटो पॉवर वाले सुरक्षा परिषद के पांचों सदस्‍यों में से किसी ने भी उनके खिलाफ मतदान नहीं किया.
 
इनख़बर से जुड़ें | एंड्रॉएड ऐप्प | फेसबुक | ट्विटर
 
15 सदस्‍यीय सुरक्षा परिषद के सभी 10 प्रत्‍याशियों ने ‘प्रोत्‍साहित करने’, ‘हतोत्‍साहित करने’ और ‘कोई विचार नहीं’ विकल्‍पों के आधार पर अपना गुप्‍त मतदान किया. गुटेरेस को 13 मत ‘प्रोत्‍साहित करने वाले’ और दो मत ‘कोई विचार नहीं’ विकल्‍प पर मिले. 
 
रूस के संयुक्‍त राष्‍ट्र में एंबेसडर विटाली चरकिन ने कहा, ”आज छठे मतदान के बाद हमारी स्‍पष्‍ट पसंद सामने आई और उनका नाम एंटोनियो गुटेरेस है.” उन्होंने आगे कहा कि हमने कल सुबह 10 बजे औपचारिक मतदान का निर्णय किया है और हमें आशा है कि यह बेहद उत्‍साह के माहौल में संपन्‍न होगा.
 
गुटेरेस साउथ कोरिया के बान-की मून की जगह लेंगे, जो इससे पहले संयुक्त राष्ट्र के महासचिव थे. गुटेरेस 1995 से 2002 तक पुर्तगाल के प्रधानमंत्री रह चुके हैं.