नई दिल्ली. भारत  के खिलाफ साजिश रचने वाले पाकिस्तान को अब अफगानिस्तान ने भी धमकी दे दी है. अफगान सरकार की ओर से कहा गया है कि पाकिस्तान उसके व्यापारियों को वाघा सीमा का इस्तेमाल नहीं करने दे रहा है ताकि  वह भारत के साथ व्यापार न कर सकें. अगर पाकिस्तान का यही रवैया रहा तो उसके लिए मध्य एशियाई देशों को जाने वाले रास्ते भी बंद कर दिए जाएंगे.

इनख़बर से जुड़ें | एंड्रॉएड ऐप्प | फेसबुक | ट्विटर
 

अफगान के राष्ट्रपति अशरफ घनी ने यह बात ब्रिटेन की ओर से अफगानिस्तान और पाकिस्तान के लिए नियुक्त विशेष अधिकारी ओवेन जेनकिस के साथ हुई बैठक में कही है. मिली जानकारी के मुताबिक अफगानिस्तान के राष्ट्रपति बेहद नाराज थे. 
 
उन्होंने कहा कि अगर पाकिस्तान हमारे व्यापारियों को इस रास्ते से आयात-निर्यात करने पर रोक लगाता है तो हम भी उसके लिए मध्य एशिया की ओर जाने वाले रास्ते बंद कर देंगे. घनी के इस बयान को आधिकारिक रूप से राष्ट्रपति की वेबसाइट में भी छापा गया है.
 
अफगान सरकार की ओर से जारी इस बयान में कहा गया है कि पाकिस्तान सहित सभी  क्षेत्रीय देशों से अफगानिस्तान चाहता है कि वो सभी तकनीकी दिक्कतों को दूर करें जो आर्थिक समन्वय बनाने में दिक्कत पैदा कर रहे हैं.  लेकिन पाकिस्तान हमेशा फलों के मौसम में हमेशा वाघा  बॉर्डर को बंद कर देता है जिसकी वजह से अफगान व्यापारियों को लाखों डॉलरों का नुकसान हो जाता है.  अफगानिस्तान के पास अंतरराष्टीय व्यापार के और भी विकल्प हैं. लेकिन भारत ने अफगानिस्तान को फलों के निर्यात के लिए सभी वित्तीय करों से मुक्त कर दिया है.
 
आपको बता दें कि अफगानिस्तान की ओर से वाघा और अटारी बॉर्डर के इस्तेमाल के लिए काफी समय से पाकिस्तान से मांग कर रहा है. लेकिन पाकिस्तान ने भारत के साथ रिश्तों में जारी उतार-चढ़ाव को देखते हुए इसकी इजाजत नहीं देने से पीछे हटा जाता है.