इस्लामाबाद. पाकिस्तान के एक सांसद (सीनेटर) ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की गिरफ्तारी पर एक अरब रुपये का इनाम रखा है. पाकिस्तान के कब्जे वाले कश्मीर के रावलकोट में जमात-ए-इस्लामी प्रमुख सिराज उल हक ने सोमवार को यह एलान किया. हक पाकिस्तानी संसद के ऊपरी सदन का सदस्य है. रावलकोट भारत के जम्मू के पुंछ जिले से 200 किमी दूर है.

हक ने कहा, ‘मैं मोदी से कहना चाहता हूं कि वह सलाउद्दीन को गिरफ्तार नहीं कर सकते. हम तुम्हारे दांत तोड़ देंगे. तुम कहते हो कि सलाउद्दीन को जो गिरफ्तार करेगा, उसको 50 करोड़ दोगे, लेकिन मैं कहता हूं जो मोदी को गिरफ्तार करेगा, हम उसे 1 अरब रुपये देंगे.’ हक का मानना है कि भारत सरकार कश्मीर के लोगों की आजादी में सबसे बड़ा रोड़ा है. वह पाकिस्तान की कभी दोस्त नहीं हो सकती और जो लोग दोस्ती की बात करते हैं, उन्हें भारत चले जाना चाहिए.

मोदी ही जिम्मेदार
हक ने रावलकोट में कहा कि मोदी ही कश्मीर और गुजरात में लोगों की हत्या के जिम्मेदार हैं. पाकिस्तान सरकार ने भी कश्मीर में लोगों पर हो रही ज्यादती से मुंह मोड़ लिया है. भारत के साथ दोस्ती तभी होगी, जब कश्मीर आजाद होगा. हक के इस विवादित बयान का उनके ही देश में विरोध शुरू हो गया है. पाक पत्रकार मेहर तरार ने ट्वीट कर उन्हें नसीहत दी है कि वह इन पैसों का इस्तेमाल अपने क्षेत्र में अस्पताल और बच्चों के लिए स्कूल खोलने के लिए करें.

IANS