सिओल. दक्षिण कोरिया और अमेरिका ने उत्तर कोरिया की धमकियों को नजरअंदाज करते हुए बड़े पैमाने पर संयुक्त सैन्याभ्यास शुरू किया है. उत्तर कोरिया ने इसकी कड़ी निंदा की है साथ ही परमाणु हमले की धमकी भी दी है. यह सैन्याभ्यास 12 दिनों तक चलेगा. 
 
इनख़बर से जुड़ें | एंड्रॉएड ऐप्प | फेसबुक | ट्विटर
 
दो हफ्ते तक चलने वाला उलची फ्रीडम अभ्यास काफी हद तक कंप्यूटर से संचालित है लेकिन फिर भी इस अभ्यास में 50 हजार कोरियाई और 25 हजार अमेरिकी सैनिक हिस्सा ले रहे हैं. इसमें परमाणु हथियार से लैस उत्तर कोरिया द्वारा पूर्ण आक्रामण करने का एक परिदृश्य तैयार किया गया है.
 
उत्तर कोरिया और दक्षिण कोरिया के बीच दशकों से तनाव चला आ रहा है. इस साल यह अभ्यास ऐसे समय में हो रहा है जब उत्तर कोरिया के कई शीर्षस्थ लोगों के देश छोड़कर चले जाने से सीमा संबंध में अशांति का माहौल है. दक्षिण कोरिया और अमेरिका का कहना है कि संयुक्त अभ्यास खुद को सुरक्षित बनाने के लिए है लेकिन उत्तर कोरिया इसे भड़काऊ कदम के रूप में देखता है.