क्वेटा. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का समर्थन करने के आरोप में पाकिस्तान ने बलूचिस्तान के तीन नेताओं के खिलाफ मामले दर्ज किया हैं. ये नेता बलूचिस्तान की आजादी की मांग कर रहे हैं. इनके नाम हैं ब्रहमदाग बुगती, हरबियार मार्री और बनुक करिमा बलोच. क्वेटा जिला पुलिस अधिकारी कुजदार मुहम्मद अशरफ ने सोमवार को यह जानकारी दी.
 
इनख़बर से जुड़ें | एंड्रॉएड ऐप्प | फेसबुक | ट्विटर
 
पुलिस अफसर के अनुसार इनके खिलाफ शिकायतें मिलने पर बलूचिस्तान के खुजदार में पांच अलग अलग मामले दर्ज किए गए हैं. इनमें देश के खिलाफ युद्ध छेड़ने का मामला भी शामिल है. उन्होंने कहा कि बुगती, मारी और बलोच ने भारतीय प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की 15 अगस्त को बलूचिस्तान और पीओके के बारे में की गई टिप्पणी का स्वागत किया था.
 
बता दें कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने 70वें स्वतंत्रता दिवस पर लाल किले से बलूचिस्तान में मानवाधिकारों के उल्लंघन का मुद्दा उठाया था. पाकिस्तान का कहना है कि भारत बलूचिस्तान का मुद्दा उठाकर कश्मीर से ध्यान हटाना चाहता है. बलूचिस्तान के मुख्यमंत्री सनाउल्ला जहेरी ने आरोप लगाया है कि भारत सरकार बलूचिस्तान में चल रहे अलगाववाद को वित्तीय सहयोग दे रही है.