नासिरिया. इराक ने 36 आतंकियों को फांसी दे दी है. इन जिहादियों को 2014 के स्पीचर नरसंहार में शामिल होने का दोषी पाया गया था. ISIS के इन आतंकियों ने तिकरिट के समीप स्थित स्पीचर छावनी से 1,700 सैन्य रंगरूटों को मौत के घाट उतार दिया था. इस नरसंहार की जिम्मेदारी इस्लामिक स्टेट समूह ने ली थी.  
 
इनख़बर से जुड़ें | एंड्रॉएड ऐप्प | फेसबुक | ट्विटर
 
स्पीचर छावनी पहले अमेरिका का सैन्य ठिकाना था. नरसंहार को सुन्नी जिहादियों और उनके सहयोगी आतंकवादियों ने अंजाम दिया था. धीकार प्रांत में गवर्नर कार्यालय के प्रवक्ता अब्देल हसन दाउद ने कहा, ‘स्पीचर नरसंहार के लिए 36 दोषियों को नासिरिया की जेल में फांसी दी गई.’ नसिरिया धिकार प्रांत की राजधानी है. अब्देल हसन दाउद ने बताया, ‘धिकार के गवर्नर याह्या अल-नासरी और न्याय मंत्री हैदर अल-जामिली फांसी के वक्त मौजूद थे.’