नई दिल्ली. भारतीय मूल के इंटनेट जीनियस गुरबख्श चहल को सिलिकॉन वैली की अदालत ने एक साल जेल की सजा सुनाई है. चहल को घरेलु हिंसा के मामले में दिए गए एक साल के प्रोबेशन को तोड़ने के जुर्म में ये सजा सुनाई गई है.
 
इनख़बर से जुड़ें | एंड्रॉएड ऐप्प | फेसबुक | ट्विटर
 
34 वर्षीय चहल को अपनी गर्लफ्रेंड से मारपीट करने और उसे मारने की कोशिश करने के आरोप में 2014 में प्रोबेशन की सजा सुनाई गयी थी. पिछले महीने चहल ने 100 से अधिक बार अपनी गर्लफ्रेंड को बुरी तरह से मारकर प्रोबेशन को तोड़ दिया. इस वजह से शुक्रवार को उसे एक साल जेल की सजा सुनाई गयी. 
 
हालांकि चहल को अपना पक्ष रखने के लिए समय दिया गया है. अदालत ने तब तक उन्हें जेल नहीं भेजने का निर्णय सुनाया है. 
 
कौन है गुरबख्श चहल
भारतीय मूल के इंटरनेट जीनियस गुरबख्श चहल ने 25 साल की उम्र में अपनी स्टार्ट कंपनी को 300 मीलियन डॉलर में बेचा था. उस वक्त रातों रात स्टार की भूमिका में आए चहल को मोस्ट एलिजिबल बैचलर के रुप में पहचान मिली. उन्हें अमेरिका के मशहूर दी ओपरा विन्फ्री शो में भी बतौर गेस्ट बुलाया गया था. 
 
हालांकि 2014 में घरेलु हिंसा और मारपीट के आरोपों के बाद चहल को उनकी ही कंपनी रेडियम वन के सीईओ के पद से हटा दिया गया था.