इस्लामाबाद. गुरुवार को पकिस्तान के इस्लामाबाद में शुरू हुए सार्क के गृह मंत्री संम्मेलन में प्रधानमंत्री नवाज शरीफ ने ऑपरेशन ज़र्ब ए अज़ब की तारीफों के पुल बांधे. सम्मेलन का आगाज प्रधानमंत्री नवाज शरीफ ने यह कहते हुए किया कि पकिस्तान आतंकावाद का सबसे बड़ा शिकार रहा है. दुनिया को समझना होगा कि आतंकवाद से लड़ाई में पकिस्तान ने क्या-क्या झेला है. 
 
इनख़बर से जुड़ें | एंड्रॉएड ऐप्प | फेसबुक | ट्विटर
 
शरीफ ने यहाँ ऑपरेशन ज़र्ब ए अज़ब को आतंकवाद के मुकाबले में अपना सबसे बड़ा कदम बताया है. उन्होंने ऑपरेशन ज़र्ब ए अज़ब की तारीफ करते हुते कहा कि यह राष्ट्रीय स्तर पर आतंकवाद से निपटने में पकिस्तान को मिली अब तक की सबसे बड़ी सफलता है. जानकारों की माने तो आतंकवाद के खिलाफ भारत द्वारा बनाये माहौल का दवाब उनके भाषण में साफ़ देखने को मिला.  
 
शरीफ ने आगे कहा कि पकिस्तान की तरह आतंकवाद का सामना शायद ही किसी देश ने किया है.  दुनिया इस बात को समझ रही है कि आतंकवाद के मामले में पाकिस्तान में हालात सुधरे हैं. 
 
For Hindi News Stay Connected with InKhabar | Hindi News Android App | Facebook | Twitter
 
मिलजुल कर करेंगे आतंकवाद का सामना
 
केंद्रीय गृह मंत्री राजनाथ सिंह ने यहाँ दक्षेस देशों से आतंकवाद के मुद्दे पर उपयोगी चर्चा की उम्मीद जताई है. बता दें कि राजनाथ सिंह की इस यात्रा का आतंकी संगठन विरोध कर रहे हैं.ऐसे में राजनाथ सिंह दक्षेस मंच का इस्तमाल करते हुए पकिस्तान को भारत के खिलाफ आतंकवादी गतिविधियों को चला रहे संगठनों पर रोक लागाने की बात कहेंगे.