काठमांडू. नेपाल में नौ महीने पुरानी केपी ओली सरकार के खिलाफ संसद में अविश्वास प्रस्ताव पर मतदान किया गया. इस बीच खबर सामने आ रही है नेपाल के पीएम के पी शर्मा ओली ने अपने पद से इस्तीफा देने की घोषणा की है.
 
इनख़बर से जुड़ें | एंड्रॉएड ऐप्प | फेसबुक | ट्विटर
 
बता दें कि यह अविश्वास प्रस्ताव माओवादी पार्टी के समर्थन वापिस ले जाने के बाद लाया गया था. और उसके बाद से ही संसद में इस प्रस्ताव पर मतदान चल रहा है.
 
अविश्वास प्रस्ताव पर पिछले तीन दिन से चर्चा जारी है. इसी दौरान ओली सरकार का महत्वपूर्ण घटक रहे राष्ट्रीय प्रजातंत्र पार्टी और फोरम लोकतांत्रिक सहित कुछ और छोटे दलों ने सरकार से अलग होने और अविश्वास प्रस्ताव के पक्ष में मतदान करने का फैसला किया है.
 
Stay Connected with InKhabar | Android App | Facebook | Twitter
 
बता दें कि नेपाल की संसद में कुल संख्या 597 है. अब मौजूदा हालात में ओली सरकार के पक्ष में सिर्फ 223 सांसद और विपक्ष में कुल 376 सांसद हो गए हैं. इसमें बहुमत के लिए 298 सांसदों के समर्थन की आवश्यकता है. सरकार को समर्थन दे रहे माओवादी का समर्थन वापस ले लिया. जिसके बाद संसद में लाये गए अविश्वास प्रस्ताव पर मतदान चल रहा है.