विंडसर. लंदन के विंडसर में ‘स्मार्ट इंडिया समिट’ के तीसरे दिन स्मार्ट सिटी प्रोजेक्ट में स्मार्ट ट्रांसपोट पर चिंतन हुआ. साथ ही इस चर्चा के दौरान प्रमुख मुद्दा थे स्मार्ट सिटी में होगा क्या ? स्मार्ट सिटी कैसे बनेगी और बन भी गई, तो स्मार्टनेस टिकेगी कैसे और कितने दिन? 
 
स्मार्ट सिटी में सभी सरकारी विभाग स्मार्ट होंगे. सरकारी योजनाओं के लिए सिंगल विंडो सिस्टम होगा. इंटरनेट पर सभी सुविधाएं ऑनलाइन हाजिर होंगी. स्मार्ट सिटी के सभी घरों को वाई-फाई कनेक्टिविटी मिलेगी.
 
इनख़बर से जुड़ें | एंड्रॉएड ऐप्प | फेसबुक | ट्विटर
 
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी स्मार्ट सिटी मिशन के अंतर्गत क्या है खास
 
स्मार्ट सिटी में सभी सरकारी विभाग स्मार्ट होंगे. सरकारी योजनाओं के लिए सिंगल विंडो सिस्टम होगा. इंटरनेट पर सभी सुविधाएं ऑनलाइन हाजिर होंगी. स्मार्ट सिटी के सभी घरों को वाई-फाई कनेक्टिविटी मिलेगी.
 
स्मार्ट सिटी में स्मार्ट ट्रांसपोर्ट सिस्टम
 
दुनिया भर के एक्सपर्ट्स की राय जानने के बाद आपको बताते हैं कि स्मार्ट सिटी में क्या-क्या होगा..? स्मार्ट सिटी में स्मार्ट ट्रांसपोर्ट सिस्टम पर खास ज़ोर दिया जा रहा है ताकि शहरों में आए दिन पेश होने वाली जाम की समस्या स्मार्ट शहरों में कभी ना दिखें. गाड़ियों की पार्किंग के लिए पूरा इंतज़ाम स्मार्ट सिटी में होगा और पब्लिक ट्रांसपोर्ट का सिस्टम ऐसा होगा कि शहर के एक हिस्से से दूसरे हिस्से तक पहुंचने में पौन घंटे से ज्यादा वक्त ना लगे. गाड़ियों के साथ-साथ पैदल चलने वालों और साइकिल से चलने वालों के लिए भी स्मार्ट सिटी में पूरी सहूलियत होगी.
 
इन्हीं सवालों का जवाब तलाशने के लिए इंडिया न्यूज़ ने लंदन के पास विंडसर में स्मार्ट, सिक्योर और सस्टेनेबल सिटीज़ ‘स्मार्ट इंडिया समिट‘ का आयोजन किया गया है. जिसमें देश और दुनिया भर के इन्फ्रास्ट्रक्चर एक्सपर्ट्स, नेता और उद्यमियों ने बताया कि भारत में स्मार्ट सिटी क्यों ज़रूरी है और ये सपना साकार कैसे होगा..?