वाशिंगटन. अमेरिकी राष्ट्रपति चुनाव में रिपब्लिकन पार्टी की तरफ से औपचारिक उम्मीदवारी से बस एक दिन दूर विवादित नेता डोनाल्ड ट्रंप को चुनाव के लिए सबसे बड़ा चंदा देने वालों में भारतीय मूल के शिकागो में रहने वाले उद्योगपति शलभ कुमार शामिल हो गए हैं.
 
इनख़बर से जुड़ें | एंड्रॉएड ऐप्प | फेसबुक | ट्विटर
 
शलभ कुमार ने डोनाल्ड ट्रंप के चुनाव अभियान को 8 लाख 98 हजार डॉलर का चंदा दिया है. शलभ ने खुद 4 लाख 49 हजार 400 डॉलर और अपनी पत्नी के जरिए भी इतना ही चंदा दिया है. शलभ से जुड़े लोगों का कहना है कि ट्रंप को चुनावी चंदा के मामले में ये बड़े चंदों में एक है. इस तरह के चंदे को वहां डबल मैक्स कहते हैं जब चंदा देने वाला और उसकी पत्नी दोनों अलग-अलग बराबर चंदा दे.
 
रिपब्लिकन पार्टी के समर्थक शलभ रिपब्लिकन हिन्दू गठबंधन के संस्थापक और अध्यक्ष हैं. शलभ की कंपनी एवीजी एडवांस्ड टेक्नोलॉजी इलेक्ट्रॉनिक सामान बनाती और बेचती है. शलभ शनिवार की सुबह भारत से लौटे और सीधे ट्रंप से मिलने गए और चंदा का ऐलान कर दिया.
 
Stay Connected with InKhabar | Android App | Facebook | Twitter
 
ट्रंप की मुसलमान विरोधी नीतियों से प्रभावित शलभ ने पत्रकारों से कहा कि ये तो ट्रंप के चुनावी अभियान को मदद की बस शुरुआत भर है. उन्होंने खुद भी 20 लाख डॉलर खर्च करने का ऐलान किया है. शलभ ने कहा कि राष्ट्रीय सुरक्षा के मसले पर ट्रंप पूर्व राष्ट्रपति रोनाल्ड रीगन से भी मजबूत नेता बनकर उभरेंगे.