वाशिंगटन. अमेरिकी राष्ट्रपति चुनाव में रिपब्लिकन पार्टी के संभावित उम्मीदवार डोनाल्ड ट्रंप की पत्नी मेलानिया ट्रंप पर मिशेल ओबामा के भाषण के अंश चुराने का आरोप लगा है. ये भाषण 2008 में डेमोक्रेटिक कन्वेंशन में बराक ओबामा की पत्नी मिशेल ओबामा द्वारा दिए गए गया था. हालांकि इसके बाद मेलानिया की सफाई सामने आई है.
 
इनख़बर से जुड़ें | एंड्रॉएड ऐप्प | फेसबुक | ट्विटर
 
इस मामले में मेलानिया ने एनबीसी न्यूज को दिए गए इंटरव्यू में कहा कि उन्होंने इस भाषण के लिए एक एजेंसी की मदद ली थी. वहीं ट्रंप के कैंपेन ने बयान जारी करके कहा है कि ये सोचना बेवकूफाना है कि ट्रंप की पत्नी ये जानते हुए भी ऐसा करेंगी कि पूरी दुनिया उनके भाषण को सुन रही होगी.
 
क्या कहा है मेलानिया ने-
 
भाषण में एक जगह मेलानिया ने कहा कि मेरे मां बाप ने मुझे सिखाया कि जो आप पाना चाहते हैं, उसके लिए कड़ी मेहनत करें. आपके शब्द आपकी प्रतिज्ञा की तरह हैं और आप वही करते हैं जो कहते हैं. आप अपने वादे पूरे करो. लोगों के साथ इज्जत की तरह पेश आओ.
 
मेलानिया आगे कहती हैं कि मेरे मां बाप ने अपनी रोज़मर्रे की ज़िंदगी में मूल्यों और नैतिकता से पेश आना सिखाया. इसी सबक को मैंने अपने बेटों को देना जारी रखा है. और हमें इस सबक को आने वाली कई पीढ़ियों तक पहुंचाने की ज़रूरत है, क्योंकि हम चाहते हैं कि इस देश में हमारे बच्चे ये जानें कि आपके सपने और उसके लिए काम करने की आपकी इच्छा आपकी सफलताओं को तय करती है.
 
Stay Connected with InKhabar | Android App | Facebook | Twitter
 
और क्या कहा था मिशेल ने- 
 
मिशेल ओबामा ने 2008 के अपने भाषण में कहा था कि बराक और मैं एक ही मूल्यों के साथ पले बढ़े हैं. जो पाना चाहते हैं, उसके लिए कड़ी मेहनत करें. आपके शब्द आपकी प्रतिज्ञा हैं और वही करें, जो आप कह रहे हैं कि करने जा रहे हैं. लोगों के साथ मर्यादा और इज्जत के साथ पेश आएं, चाहे उन्हें नहीं जानते हो या उनसे समहत नहीं हों.