नई दिल्ली. संसद का मानसून सत्र शनिवार से शुरू हो गया है. लोकसभा और राज्यसभा दोनों सदनों की कार्यवाही शुरू होने के कुछ ही देर बाद लोकसभा की कार्यवाही मध्य प्रदेश से सांसद दलपत सिंह परस्ते के निधन के कारण दिनभर के लिए स्थगित कर दी गई.
 
इनख़बर से जुड़ें | एंड्रॉएड ऐप्प | फेसबुक | ट्विटर
 
 बता दें कि एक जून को परास्ते का निधन हो गया था. पांच बार सांसद रहे 66 वर्षीय परास्ते को उस समय मस्तिष्काघात हो गया था जब वह एक सार्वजनिक कार्यक्रम को संबोधित कर रहे थे. एक निजी अस्पताल में उपचार के दौरान उनका निधन हो गया.
 
नव-निर्वाचित सदस्यों को शपथ दिलाई
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने इससे पहले मंत्रिमंडल में शामिल नए सदस्यों का परिचय लोकसभा में परिचय कराया. संसद के निचले सदन की कार्यवाही अब मंगलवार को संचालित होगी. वहीं राज्यसभा की कार्यवाही शुरू होने के बाद सभापति हामिद अंसारी ने सदन के नव-निर्वाचित सदस्यों को शपथ दिलाई.
 
सत्र शूरू होने से पहले प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा है कि सरकार हर मुद्दे पर चर्चा के लिए तैयार है. सभी दल देश हित के लिए सहयोग दें और संसद में देश को दिशा देने का काम हो. उन्होंने आगे कहा कि देश को गति देने के लिए संसद में चर्चा जरूरी है.
 
Stay Connected with InKhabar | Android App | Facebook | Twitter
 
मायावती ने उठाया दलित मुद्दा
बहुजन समाजवादी पार्टी (बीएसपी) की मुखिया मायावती ने राज्यसभा में कहा कि केंद्र में बीजेपी की सरकार आने से दलितों पर अत्याचार दिन पर दिन बढ़ते जा रहे हैं. उन्होंने कहा कि गुजरात के उना में दलितों के साथ अत्याचार हो रहा है. इस मामले में जो भी दोषी हैं उन पर कार्रवाई की जाए. बीएसपी ने इस मुद्दे को लेकर सदन में हंगामा भी किया.