अंकारा. तुर्की में सेना द्वारा तख्तापलट की कोशिश को देश की जनता ने नाकाम कर दिया है, लेकिन इस बीच 250 से अधिक लोगों को अपनी जान गंवानी पड़ी. तख्तापलट में नाकाम होने के बाद सेना के जवान बड़ी संख्या में आत्मसमर्पण करते नजर आए.
 
इनख़बर से जुड़ें | एंड्रॉएड ऐप्प | फेसबुक | ट्विटर
 
प्रधानमंत्री बिनाली यिलदीरिम ने एक बयान में कहा, ‘हालात अब पूरी तरह नियंत्रण में हैं. मेरे साथ तुर्की के शीर्ष जनरल थे. उन्हें भी साजिशकर्ताओं ने बंधक बना लिया था.’ उन्होंने कहा कि इस हिंसा में 250 लोगों की मौत हुई है और 1440 लोग घायल हुए हैं.
 
Stay Connected with InKhabar | Android App | Facebook | Twitter
 
राष्ट्रपति रेसेप तैयप एर्दोगन ने सड़कों पर उतरे लोगों से अपील करने के लिए ट्विटर का सहारा लिया तथा यह सुनिश्चित किया कि उनकी सत्ता को और चुनौती नहीं मिले. उन्होंने लोगों से अपील की कि हमें आज रात सड़कों पर कब्जा बनाए रखना चाहिए, चाहे कैसी भी स्थिति क्यों न हो क्योंकि दोबारा प्रयास किसी भी समय हो सकता है.