नई दिल्ली. पाकिस्तान कश्मीर मामले पर एक बार फिर से विविदित कदम उठाने जा रहा है. पाकिस्तान ने कश्मीर के मुद्दे पर 19 जुलाई को काला दिवस मनाने का ऐलान किया है. पाक के इस कदम से साफ है कि वो ये ब्लैक डे दरअसल, आतंकी बुरहान की मौत के दुख में मनाने वाला है. बुरहान की मौत से पाकिस्तान कितना बौखलाया हुआ है कि इसका अंदाजा आप इस बात से लगाया जा सकता है कि वो कश्मीर मुद्दे पर अंतरराष्ट्रीय कोर्ट में जाने की बात कह रहा है. 
 
इनख़बर से जुड़ें | एंड्रॉएड ऐप्प | फेसबुक | ट्विटर
 
प्रधानमंत्री नवाज शरीफ ने कश्मीर मुद्दे पर इस्लामाबाद में बैठक की है. इस बैठक में फैसला लिया गया है कि कश्मीर के मुद्दे पर पाकिस्तान 19 जुलाई को काला दिवस मनाएगा. साथ ही संसद का संयुक्त सत्र भी बुलाया जाएगा. सूत्रों से मिली पाकिस्तान ने कश्मीर में जनसंहार कराने का आरोप लगाया है, वह इस मुद्दे को इंटरनेशनल कोर्ट में भी उठाएगा. वहीं इससे पहले पाकिस्तान के रक्षा मंत्री ख्वाजा आसिफ ने कहा है कि कश्मीर मे गुजरात की तर्ज पर जनसंहार हो रहा है.
 
Stay Connected with InKhabar | Android App | Facebook | Twitter
 
बता दें कि कश्मीर में अब तक प्रदर्शनकारियों और स्थानीय पुलिसकर्मियों के बीच झड़पों में 35 से ज्यादा लोगों की मौत हो गई है. हिजबुल कमांडर बुरहान वानी की मौत के बाद से ही घाटी में तनाव का माहौल बना हुआ है. कश्मीर घाटी में आज भी प्रशासन ने हिंसा फैलने की आशंका के मद्देनजर सभी 10 जिलों में कर्फ्यू लगा दिया है.