डलास. अमेरिका के डलास में फायरिंग की वजह से पांच अफसरों की मौत हो गई है वहीं सात घायल हो गए हैं. दरअसल गोलियां एक विरोध प्रदर्शन के दौरान चलाई गई. रिपोर्ट्स के मुताबिक हमला करने वाले तीन संदिग्धों को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है.
 
इनख़बर से जुड़ें | एंड्रॉएड ऐप्प | फेसबुक | ट्विटर
 
इस बीच एक महिला संदिग्ध के फरार होने के चलते अमेरिकी संसद को बंद कर दिया गया था. क्योंकि संदिग्ध के पास हथियार होने की आशंका बताई जा रही थी. साथ ही एक संदिग्ध ने खुद को गोली मार ली है. इससे पहले डलास पुलिस विभाग ने एक संदिग्ध की तस्वीर ट्विटर पर शेयर भी की थी. फायरिंग में घायल हुए अफसरों में तीन की हालत काफी गंभीर है.
 
 
कैफेटेरिया में काम करने वाले फिलांदो को पुलिस ने सिर्फ इसलिए गोली मार दी क्योंकि उसने ट्रैफिक रूल तोड़ा. रिपोर्ट के मुताबिक इस शख्स की गर्लफ्रेंड ने मरते हुए अपने ब्वॉयफ्रेंड के अंतिम पलों का वीडियो फेसबुक के जरिए लाइवस्ट्रीम कर दिया. फेसबुक पर  इस वीडियो को 13 लाख से ज्यादा बार देखा जा चुका है.
 
Stay Connected with InKhabar | Android App | Facebook | Twitter
 
वायरल हुआ वीडियो देखने के बाद इसे एक नस्लीय घटना बताया गया और इसी के विरोध में डलास में यह विरोध प्रदर्शन आयोजित किया गया था. यही नहीं मंगलवार को लुइज़ियाना के बैटन रूज़ शहर में एक अन्य काले व्यक्ति आल्टन स्टर्लिंग की मौत पुलिस की गोली लगने से हुई थी. डलास में हो रहा प्रदर्शन पुलिस की इसी नस्ल भेदी कार्यावाही के खिलाफ था.