नई दिल्ली. इस्लामिक स्टेट के आतंकी इन दिनों सोशल मीडिया के जरिए गुलाम बनाई गई महिलाओं को बेच रहा है. महिलाओं के अलावा छोटी बच्चियों को भी यौन गुलाम बनाकर बेचा जा रहा है. आईएस इसके लिए व्हाट्सऐप और टेलिग्राम जैसे सोशल प्लेटफार्म का सहारा ले रहा है.
 
इनख़बर से जुड़ें | एंड्रॉएड ऐप्प | फेसबुक | ट्विटर
 
बताया जा रहा है कि इसके लिए वो गुलाम महिलाओं और बच्चियों की तस्वीरें, उनके मालिक का नाम और महिला के कौमार्य से जुड़ी सारी जानकारियां ग्राहकों को देता है. 
 
रिपोर्ट्स में बताया जा रहा है कि आईएस आतंकियों ने करीब 3000 बच्चियों को यौन गुलाम बना रखा है, जिनमें से सबसे ज्यादा अल्पसंख्यक समुदाय से आने वाली यहूदी महिलाएं हैं. आईएस के आतंकियों ने पिछले दिनों एक 12 साल की बच्ची के बारे में टेलिग्राम ऐप पर विज्ञापन डाला था.
 
Stay Connected with InKhabar | Android App | Facebook | Twitter
 
इस विज्ञापन में उसने एक 12 साल की बच्ची की फोटो डालते हुए लिखा था कि वो वर्जिन है और बेहद खूबसूरत है और अब ऑनलाइन बाजार में इस बच्ची की कीमत 12 हजार 500 डॉलर से भी ज्यादा हो गई है और माना जा रहा है कि ये बच्ची जल्द ही बेच दी जाएगी. न्यूज एजेंसी एएफपी के मुताबिक, गुलाम महिलाओं और बच्चियों का उसके मालिक के नाम से रजिस्ट्रेशन होता है और आईएस के सभी चेकपोस्ट को इनकी जानकारियां होती हैं ताकि ये भाग ना पाएं.