लंदन. ब्रिटेन में भारतीय मूल की एक महिला पत्रकार को उस वक्त नस्लवाद का सामना करना पड़ा जब वह ब्रेग्जिट वोट पर रिपोर्टिंग कर रही थीं. रिपोर्टर सीमा कोटेचा को अपने गृहनगर दक्षिणी इंग्लैंड में ही नस्लीय टिप्पणी सुनना पड़ा.
 
इनख़बर से जुड़ें | एंड्रॉएड ऐप्प | फेसबुक | ट्विटर
 
एक अंग्रेजी अखबार के मुताबिक 23 जून को सीमा जब ब्रेग्जिट पर जनमत संग्रह के बाद बसींगस्टोक शहर पर रिपोर्टिंग कर रही थी तब उन्हें किसी ने ‘पाकी’ कहा. बता दें कि इंग्लैंड में दक्षिण एशियाई मूल के प्रवासियों के लिए इस्तेमाल किया जाता है. 
 
पत्रकार ने ट्वीट कर इस बात का खुलासा किया. सीमा ने ट्वीट किया कि मुझे मेरे गृहनगर में पाकी कहा गया, मैंने ये शब्द 80 के दशक के बाद अब सुना है.
 
Stay Connected with InKhabar | Android App | Facebook | Twitter
 
बता दें कि ब्रेग्जिट यानी ब्रिटेन का यूरोपियन यूनियन से एग्जिट होना. हाल ही में हुए जनमत संग्रह में ब्रिटेन के लोगों ने ब्रिटेन को यूरोपिय संघ से बाहर करने के पक्ष में मत दिया है.