नई दिल्ली. भारत और ईरान के बीच पिछले दिनों हुए चाबहार डील से चीन का गहरा झटका लगा है. चीन इस झटके से चाइना अब तक उबर नहीं पाया है. ऐसा चीनी मीडिया का कहना है. चीनी मीडिया ने कहा है कि चाहबार डील चीन और पाकिस्तान को भारत का तगड़ा जवाब है.
 
इनख़बर से जुड़ें | एंड्रॉएड ऐप्प | फेसबुक | ट्विटर
 
सरकारी चीनी मीडिया ने अपने रिपोर्ट में कहा है कि ग्वादर बंदरगाह को लेकर पाकिस्‍तान और चीन का जवाब है चाबहार समझौता. रिपोर्ट में कहा गया है कि चाबहार समझौता भारत के लिए महत्वकांक्षाओं का छोटा हिस्सा भर है. दरअसल भारत पश्चिम एशिया और सेंट्रल एशिया में अपनी धाक जमाना चाहता है.
 
Stay Connected with InKhabar | Android App | Facebook | Twitter
 
भारत और ईरान के बीच चाबहार समझौते से चीन को इस लिए बड़ा झटका लगा क्योंकि इसपर चीन की नजर थी. चीन ने चाबहार पोर्ट को विकसित करने की योजना बनायी थी, लेकिन भारत ने चीन की सारी योजना को ध्वस्त करते हुए ईरान के साथ चाबहार समझौता कर लिया. बता दें कि इस डील पर चीनी कंपनी चाइना हार्बर इंजीनियरिंग की नजर थी. इसी कंपनी ने पाकिस्‍तान में भी ग्वादर पोर्ट को विकसित करने की कमान संभाली है.