वाशिंगटन. अमेरिकी राष्ट्रपति चुनाव में डेमोक्रेटिक पार्टी की उम्मीदवारी की दौड़ में आगे चल रहीं हिलेरी क्लिंटन ने कहा है कि उनके रिपब्लिकन पार्टी के प्रतिद्वंद्वी डोनाल्ड ट्रंप एक ‘तानाशाह’ बनना चाहते हैं. उन्होंने कैलीफोर्निया के सैन बर्नार्डिनो में कहा, “हम एक राष्ट्रपति चुनने की कोशिश कर रहे हैं, न कि एक तानाशाह.” हिलेरी ने सात जून को कैलीफोर्निया में होने वाले डेमोक्रेटिक पार्टी की प्राइमरी के पहले यह बात कही.
 
इनख़बर से जुड़ें | एंड्रॉएड ऐप्प | फेसबुक | ट्विटर
 
अमेरिकी समाचार संगठन पोलिटिको के अनुसार, सूत्रों ने कहा कि ट्रंप की आव्रजन के मुद्दे पर की गई टिप्पणी और उनका बार-बार यह आग्रह पर कि इंडियाना में जन्मा एक न्यायाधीश अपनी मेक्सिको की परंपरा की वजह से उनसे सही ढंग से न्याय नहीं कर सकता, इस टिप्पणी से हिलेरी स्तब्ध हैं. रैली में हिलेरी ने ट्रंप पर सीधा हमला करते हुए न केवल उनकी शैक्षिक योग्यता, बल्कि ईमानदारी पर भी सवाल उठाए. 
 
हिलेरी ने कहा, मुझे समझ नहीं आ रहा कि डोनाल्ड ट्रंप का पूरा प्रचार अभियान और किसी चीज पर नहीं बल्कि आप्रवासियों की निंदा पर आधारित है. हिलेरी ने उल्लेख किया कि ट्रंप की मां स्कॉटलैंड की हैं और उनकी पत्नी स्लोवेनिया की हैं. ट्रंप का परिवार खुद ऐसा है, जो विदेश से अमेरिका आकर बसा है. क्या यह कुछ नहीं बस एक राजनीतिक शिगूफा है?
 
Stay Connected with InKhabar | Android App | Facebook | Twitter