होरिशिमा. अपने ऐतिहासिक दौरे पर हिरोशिमा पहुंचे बराक ओबामा ने परमाणु हमले में मारे गए लोगों को श्रद्धांजलि दी, वहीं उन्होंने परमाणु हमले के लिए माफी मांगने से इन्कार कर दिया. उन्होंने जापान के प्रधानमंत्री शिंजो आबे के साथ परमाणु हमले के पीड़ितों की याद में बनाए गए पीस मेमोरियल पार्क का दौरा किया. इस दौरान उन्होंने कहा कि 6 अगस्त 1945 को कभी भूला नहीं जा सकता.
 
बता दें कि 71 साल पहले 6 अगस्त 1945 को हिरोशिमा शहर पर अमेरिका ने परमाणु हमला करके बर्बाद कर दिया था जिसमें करीब 1,40,000 लोगों की मौत हो गई थी. इस हमले के लिए जापान अमेरिका से काफी दिनों से माफी मांगने का दबाव बना रहा है.
 
वहीं हिरोशिमा के बाद नागासाकी शहर पर भी परमाणु बम गिराए गए जिसमें करीब 74,000 लोग मारे गए थे. उस हमले के बाद यह पहला मौका है जब कोई अमेरिकी राष्ट्रपति उस जमीन पर पहुंचा हो.