नई दिल्ली. अमरीकी राष्ट्रपति भवन व्हाइट हाउस के पास गोलीबारी की खबर के बाद व्हाइट हाउस को बंद कर दिया गया. हालांकि बाद में उसे खोल दिया गया. व्हाइट हाउस में करीब 45 मिनट तक तालाबंद रहा. 
 
दरअसल, परिसर के पास एक शख्स बंदूक लिए गुजर रहा था, जिसे सीक्रेट सर्विस एजेंट ने गोली मार दी. शख्स को हथियार फेंकने को बोला गया, लेकिन उसने नजरअंदाज कर दिया और बंदूक दिखाना शुरू कर दिया. जिसके बाद उसे गोली मार दी गई और वो घायल हो गया. घायल शख्स को स्थानीय अस्पताल ले जाया गया है, अधिकारियों का कहना है कि उसकी हालत गंभीर है.
 
राष्ट्रपति बराक ओबामा घटना के समय व्हाइट हाउस में नहीं थे, जबकि उपराष्ट्रपति जो बाइडेन परिसर के भीतर ही थे.घटना के बाद पर्यटकों को कहीं भी व्हाइट हाउस के पास आने की अनुमति नहीं दी गई है. भारी सुरक्षा तैनात की गई है. ट्रैफिक को डायवर्ट किया गया है.
 
पिछले कुछ समय से व्हाइट हाउस में सुरक्षा से जुड़ी ऐसी कुछ घटनाएं हुई हैं, जो के सुरक्षा व्यवस्था को सवालों के घेरे में खड़ा करती हैं.