कराची. कारगिल युद्ध के दिनों को याद करते हुए पाकिस्तान के पूर्व तानाशाह जनरल परवेज मुशर्रफ ने रविवार को कहा कि पाकिस्तानी सेना ने उस समय भारत को मुसीबत में डाल दिया था और इसे भारत कभी नहीं भूल सकता. अपनी पार्टी ऑल पाकिस्तान मुस्लिम लीग के एक समारोह को संबोधित करते हुए मुशर्रफ ने कहा, ‘वहां एक दूसरी पंक्ति का बल भी था, जिसने भारत को मुसीबत में डाल दिया था बाद में उसे सेना का दर्जा दे दिया गया.’
 
जियो न्यूज की खबर के मुताबिक मुशर्रफ ने कहा कि भारत कारगिल युद्ध को हमेशा याद रखेगा. मुशर्रफ ने 1999 के कारगिल युद्ध की योजना बनाई थी और उन्होंने नौ साल पाकिस्तान पर राज किया. मुशर्रफ ने कहा, ‘हम कारगिल में चार स्थानों से घुसे थे और इस बारे में भारत अनभिज्ञ था.’ आपको बता दें कि मई 1999 में हुआ कारगिल युद्ध भारत और पाकिस्तान के बीच 1971 के बाद लड़ा गया सबसे बड़ा युद्ध था. कार्यक्रम के दौरान मुशर्रफ ने घोषणा की कि उनकी पार्टी देशभर में होने वाले आगामी स्थानीय निकाय के चुनावों में भाग लेगी.

IANS