बगदाद. इराक की राजधानी बगदाद में हुए तिहरे कार बम धमाकों में करीब 64 लोगों मौत की खबर है. जबकि हादसे में करीब 100 से ज्यादा लोग घायल हुए है. धमाका बगदाद सदर सिटी के शिया बहुल इलाके में हुआ है. सूत्रों की मानें तो विस्फोट के बाद सैकड़ों लोगों ने घटनास्थल पर जमा होकर सरकार विरोधी प्रदर्शन भी किया है. उनका कहना था कि विस्फोट के लिए राजनेता जिम्मेदार हैं.  
 
IS ने ली धमाके की जिम्मेदारी
आतंकवादी संगठन इस्लामी स्टेट (आईएस) ने ऑनलाइन बयान जारी कर सद्र शहर में हुए हमले की जिम्मेदारी ली है. आईएस ने स्टेटमेंट में शियाओं को निशाना बनाने का दावा किया है. रिपोर्ट की मानें तो पिछले कुछ महीनों में आईएस ऐसे कई धमाकों को अंजाम दे चुका है.
 
आसपास की दुकानों में भी लगी आग
अधिकारियों ने बताया कि सुबह करीब 10 बजे सद्र सिटी में हुए विस्फोट में कम से कम 64 लोगों की मौत हो गई. विस्फोट से आसपास की कई दुकानों और गाड़ियों में आग लग गई है.
 
राजनीतिक संकट से घिरी है सरकार
वहीं दूसरी ओर यह  हमले उस वक्त हुए हैं. जब सरकार राजनीतिक संकट से घिरी है और कुछ लोगों ने चेतावनी दी है कि मौजूदा संकट से आईएस के खिलाफ लड़ाई कमजोर पड़ सकती है. दरअसल, इराक में धर्मगुरु मुक्तदा अल सद्र कैबिनेट में फेरबदल और अन्य राजनीतिक सुधारों की मांग कर रहे हैं. उनके हजारों अनुयायी सरकार के खिलाफ प्रदर्शन कर रहे हैं. रिपोर्टस् के मुताबिक  उनके समर्थक पिछले दिनों बगदाद के कड़े सुरक्षा वाले ग्रीन जोन में और संसद में भी घुस गए थे.