अदन. यमन की सेना सऊदी अरब की मदद से बंदरगाह शहर मुकाल्ला और देश के सबसे बड़े तेल निर्यात पर फिर से काबिज हो गई है. गठबंधन सेना ने हवाई हमलों की मदद से अलकायदा के 800 से अधिक लड़ाको को मार गिराया. गठबंधन की ओर से जारी बयान में इस खबर की पुष्टी की गई है. पिछले साल इस क्षेत्र में अलकायदा समूह ने कब्जा कर लिया था. 
 
सेना से जुड़े सूत्रों ने बताया कि सरकार समर्थित सुरक्षाबलों ने जिहादियों का गढ़ माने जाने वाले मुकल्ला शहर सहित तेल टर्मिनल पर फिर से अधिकार कर लिया. यह क्षेत्र आतंकवादियों की कमाई का प्रमुख स्रोत था. बता दें कि सऊदी अरब गठबन्धन को पिछले एक साल में मिली यह सबसे बड़ी सफलता है.
 
यह अभियान जिहादी आतंकवादियों के कब्जे वाले देश के हिस्सों की सुरक्षा के मकसद से किया गया व्यापक आक्रमण था. 0 अप्रैल को संघर्ष विराम के बाद गठबंधन सेना ने अलकायदा के खिलाफ अभियान शुरू किया था.
 
बता दें कि यमन और युएई के दो हजार  से भी अधिक सैनिक शहर में गश्त कर रहे हैं. बन्दरगाहों एवं हवाई अड्डों पर कब्जे के बाद जगह- जगह नाके बंदी भी की गई है.