करांची. मोस्ट वांटेंड आतंकवादी दाऊद इब्राहिम को गैंगरीन नाम की घातक बीमारी हो गई है जिसकी वजह से अगर उसकी जान बच भी गई तो उसके पैर को काटना ही पड़ेगा. सूत्रों का कहना है कि तीन महीने पहले पांव में एक चोट के बाद दाऊद को पांव में गैंगरीन हो गया है.
 
गैंगरीन वो बीमारी है जो शरीर के किसी हिस्से में चोट या संक्रमण जैसी वजहों से शुरु होती है और फिर खून की आपूर्ति की कमी के कारण शरीर के उस हिस्से में कोशिकाएं मरने लगती हैं और वो हिस्सा गलने लगता है. डायबिटिज के मरीजों या सिगरेट पीने वालों के लिए ये बीमारी और भी मारक होती है.
 
बताया जाता है कि दाऊद का गैंगरीन बहुत आगे बढ़ चुका है और करांची में पाकिस्तानी सेना के डॉक्टर उसका इलाज कर रहे हैं. गैंगरीन बीमारी को लेकर ये हमेशा से साफ रहा है कि इस बीमारी के गंभीर स्टेज में पहुंचने के बाद अगर मरीज बच भी जाए तो उस इन्फेक्शन को शरीर के दूसरे हिस्से में फैलने से रोकने के लिए उस हिस्से को काटकर हटा दिया जाता है.
 
ऐसे में अगर दाऊद का गैंगरीन कंट्रोल नहीं हो पाया तो जाहिर तौर पर उसकी जान बचाने के लिए पाकिस्तानी सेना के डॉक्टर उसके पैर का वो हिस्सा काटकर अलग कर देंगे जिस पांव में गैंगरीन हुआ है. फिलहाल दाऊद करांची में पाकिस्तानी खुफिया एजेंसी की मेजबानी में कड़ी सुरक्षा के बीच अपने बंगले में इलाज करवा रहा है.