मॉस्को. रूस के दौरे पर गई विदेश मंत्री सुषमा स्वराज ने चीन के विदेश मंत्री वांग ली के सामने आतंकी मसूद अजहर का मुद्दा उठाया है. उन्होंने संयुक्त राष्ट्र में जैश-ए-मोहम्मद के प्रमुख मसूद अजहर को आतंकी घोषित करने के भारत के प्रयास को चीन की तरफ से विफल किए जाने पर विरोध जताया है. 
 
 
रूस-भारत-चीन की संयुक्त वार्ता के दौरान मॉस्को में दोनों नेताओं ने मुलाकात की. इसी दौरान सुषमा ने मसूद के मुद्दे पर चीन से बात की. भारत का मानना है कि पठानकोट हवाई अड्डे में हुए आतंकी हमले में मसूद का ही हाथ था. 
 
चीन ने इस्तेमाल किया था वीटो 
 
 
भारत ने इस महीने की शुरुआत में संयुक्त राष्ट्र में मसूद अजहर को आतंकी घोषित करने का प्रयास किया था. जिसमें चीन ने वीटो का इस्तेमाल करके भारत की मंशा को नाकामयाब कर दिया था. चीन ने कहा था कि वह इसके लिए बनाए गए सुरक्षा परिषद के मानकों पर फिट नहीं है. इससे पहले भी चीन ने पाकिस्तानी आतंकी संगठन पर प्रतिबंध को लेकर भारत का विरोध किया था.