सियोल. उत्तर कोरिया ने देश के रक्षा मंत्री को देशद्रोह के अपराध में सरेआम मौत के घाट उतार दिया. समाचार एजेंसी योनहप के मुताबिक, राष्ट्रीय खुफिया सेवा (एनआईएस) ने बुधवार को बताया कि उत्तर कोरिया की पीपल्स आर्म्ड फोर्स के प्रमुख हयोन योंग-चोल को 30 अप्रैल के आसपास प्योंगयांग के एक सैनिक स्कूल में विमान भेदी तोप से उड़ा दिया गया.

हयोन को एक सैन्य कार्यक्रम के दौरान सोते हुए देखा गया था और उन पर उत्तर कोरियाई नेता किम जोंग-उन के निर्देशों का पालन नहीं करने का आरोप था. हयोन को जून, 2014 में सशस्त्र बलों का प्रमुख बनाया गया था, जो कि कोरियन पीपल्स आर्मी (केपीए) में सामान्य राजनैतिक विभाग के निदेशक हवांग प्योंग-सो के बाद दूसरा बड़ा पद है.

उत्तर कोरिया ने हयोन के मामले में अभी तक अपनी सफाई नहीं दी है. एनआईएस के मुताबिक, उत्तर कोरिया इस साल 15 अन्य वरिष्ठ अधिकारियों को मौत की सजा दे चुका है. (IANS)