नई दिल्ली. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने विश्व भर में बाघों के संरक्षण और उन्हें सुरक्षा प्रदान करने पर कहा है कि भारत बाघों के संरक्षण के लिए दक्षिण एशियाई देशों के साथ करार करने को तैयार है. उन्होंने यह बात दिल्ली में आयोजित 13 देशों की टाइगर संरक्षण पर कॉन्फ्रेंस को संबोधित करते हुए कही.
 
पीएम मोदी ने देश में बाघों की संख्या बढ़ने पर खुशी जताई. देश में बाघों की संख्या बढ़कर 2500 से ज्यादा हो गई है. मोदी ने कहा कि बाघों को बचाने की मुहिम को और तेज करने की जरूरत है. जिसके लिए आवश्यक कदम जल्द ही उठाए जाएंगे.
 
मोदी ने कहा कि प्रकृति की रक्षा करना और बाघों को संरक्षण देने का मतलब विकास की रफ्तार को धीमा करना नहीं है. बल्कि ये दोनों ही एक दूसरे के पूरक हैं. 
 
बता दें कि केंद्र सरकार ने टाइगर संरक्षण के लिए बजटीय आवंटन पिछले साल को 185 करोड़ रुपये से बढ़ाकर 380 करोड़ रुपये कर दिया है.