नई दिल्ली. मिस्र एयरलाइंस के हाईजैक विमान में यात्रियों  को रिहा किए जाने कि खबर सामने आ रही है. बताया जा रहा है कि विमान में सवार 7 क्रू मेंबर्स समेत 4 विदेशी नागरिकों को छोड़कर बाकी सभी यात्रियों को आतंकियों ने रिहा कर दिया है. विमान में कोई भी भारतीय नागरीक के सवार होने की खबर नहीं है. फिलहाल हाईजैकर्स और सरकार के बीच बातचीत जारी है.
 
एलेक्जैंड्रिया से काइरो जाने वाली मिस्रएयर की फ्लाइट को हाईजैक किया गया है. स्टेट टीवी ने बताया है कि हाईजैक मिस्र एयरलाइनर को साइप्रस में उतारा गया है. मिस्रएयर ने भी विमान के हाईजैक होने की पुष्टि करते हुए कहा था कि हाईजैक हुई फ्लाइट एमएस181 में 81 यात्री सावार हैं.
 
न्यूज एजेंसियों ने एयरलाइन और मिस्र सरकार को कोट करते हुए लिखा है कि एलेक्जेंड्रिया से काइरो जा रही फ्लाइट में कम से कम एक हाइजैकर है. हाीजैक करने वाले ने ही इसे साइप्रस में लैंड कराया है. 
 
साइप्रस ब्रॉडकास्टिंग की रिपोर्ट के मुताबिक हाईजैकर ने खुद को बम से बांध रखा है, पुलिस लोगों से जहाज से दूर जाने को कह रही है. एएफपी के मुताबिक हाईजैकर बम से विमान को उडा़ने की धमकी दे रहा है.
 
सिविल एविएशन मिनिस्ट्री के सूत्रों ने विमान को साइप्रस की तरफ ले जाने की पुष्टि की. साइप्रस के अधिकारियों ने समाचार एजेंसी एपी को बताया है कि हाईजैक किए गए प्लेन को लरनाका एयरपोर्ट पर उतारा गया है. विमान में बम होने का अंदेशा भी जताया गया है